मध्यप्रदेश कर्ज़ माफ में बड़ा बदलाव : पूरी खबर

नमस्कार दोस्तों , स्वागत है आपका खेती किसान में मध्यप्रदेश कर्ज़ माफ घोषणा में हुआ बड़ा बदलाव , पढे पूरी खबर यहाँ ।

मध्यप्रदेश किसान कर्ज़ माफ में बड़ा बदलाव : पढे ताज़ा खबर

हाल ही में बनी मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार ने एक मीटिंग में कर्ज़ माफ़ी  (kisan karz maaf) वाली घोषणा को लेकर बड़ा बदलाव करने का फैसला किया है । अब यह निरण्य लिया गया है पहले जो कर्ज़ 31 मार्च 2018 तक लिया गया था वही कर्ज़ माफ होना था , but अब बड़ा बदलाव यह हुआ है की वह तारीख अब बढ़ाकर 30 नवंबर 2018 या 31 दिसम्बर 2018 कर दी जाएगी ।
मध्यप्रदेश कर्ज़ माफ में बड़ा बदलाव : पूरी खबर

मध्यप्रदेश कर्ज़ माफ घोषणा में बदलाव की ब्रेकिंग न्यूज़

  • अब  किसानों की कर्जमाफी 31 मार्च 2018 की बजाय 30 नवंबर या 31 दिसंबर 2018 तक करने का फैसला लिया गया है ।हालांकि अभी ये स्पष्ट नही हुआ है की इसे नवम्बर तक किया जायेगा या दिसम्बर तक परन्तु इस पर मुख्यमंत्री ने अपनी सहमति दे दी ।
  • कृषि विभाग ने कर्जमाफी की प्रक्रिया का पूरा टाइम-चार्ट तैयार कर लिया है। कमलनाथ सरकार लोकसभा चुनाव के पहले पूरा कर्ज माफ करना चाहती है ।
  • इसलिए एक फरवरी के आस-पास ग्राम पंचायतों में कर्ज माफी के लिए पात्रता लिस्ट रख दी जाएगी।
  • पोर्टल आधारित लिस्ट के आधार पर किसान को आवेदन करना होगा।
  • इसी के तहत दावे, आपत्ति व सत्यापन होंगे। इसके बाद 15 फरवरी से माफी का क्रियान्वयन व कर्ज चुका देने वाले किसानों के खातों में पैसा आना शुरू हो जाएगा।

कर्ज़ माफी में अब हुए इस बदलाव से क्या फायदा होगा किसानों को ?

  • एक से अधिक बैंकों से लिया गया कर्ज भी दो लाख तक होगा माफ।
  • 30 नवंबर या 31 दिसंबर तक लिए गए किसानों के कर्ज होंगे अब माफ।
  • जिन किसानों ने समय पर कर्ज चुका दिया है, उन्हें भी दो लाख तक वापस मिलेंगे ।
  • एक फरवरी के आस-पास ग्राम पंचायतों में कर्ज माफी के लिए पात्रता लिस्ट देख सकते है ।
  • MP कर्जमाफी लिस्ट आप Online भी चैक कर सकते है ।
  • मध्य प्रदेश कृषि विभाग द्वारा किसान कर्ज़ माफी से सम्बन्धित वेबसाइट जल्द ही लॉन्च कर दी जायेगी ।

Also read  यह भी पढे : राजस्थान किसान कर्ज़ माफी घोषणा

कैबिनेट मंत्रियों ने हुई बैठक में कर्ज़ माफी को लेकर क्या सुझाव दिये ?

  1. जयवद्र्धन सिंह ने कहा की हमें तेलंगाना वाला मॉडल अपनाना चाहिए तो बेहतर होगा ।
  2. कमलेश्वर पटेल का सुझाव यह था की 30 नवंबर
    या 31 दिसंबर तक का कर्ज माफ हो ताकि अधिक किसान लाभान्वित हो सके ।
  3. जीतू पटवारी ने कहा की किसानों
    को सीधा फायदा मिलना चाहिए , उच्च रहेगा ।
  4. बाला बच्चन ने यह कहा – हमने
    दो लाख तक का कर्ज माफ करने के लिए कहा है तो उतना होना चाहिए फिर चाहे वह कितने ही बैंकों से लिया गया हो।
One Comment

आपका कमेंट हमारा हौंसला 👇 Do Comment here